BLOGSMANCH. Powered by Blogger.

आवश्यक सूचना!

ब्लॉगमंच में अपने ब्लॉग शामिल करवाने के लिए निम्न ई-मेल पर अपने ब्लॉग का यू.आर.एल. भेज दीजिए। roopchandrashastri@gmail.com

"बी.एस.एन.एल. की दादागिरि" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")

Sunday, September 25, 2011


बी.एस.एन.एल. की दादागिरि!
मित्रों!
15 दिन पुरानी बात है!  बी.एस.एन.एल. ने मेरा टेलीफोन नॉन पेमेण्ट के कारण बन्द कर दिया था। एक्सचेंज में जाने पर पता लगा कि मेरे ऊपर 2494 रुपये ड्यू हैं।
मैंने टेलीफोन के एस.डी.ई. से कहा कि आपने बिल तो मुझको भेजे नहीं। तो उन्होंने जवाब दिया कि बिल बाँटना डाकखाने का काम है।
खैर मैंने 2500 रुपये अपने ब्रॉडबैण्ड के खाते में जमा करा दिये। इसके बाद 15 दिनों में 4 बार टेलीफोन कहता है कि आपकी टेलीफोन सेवा पर नान-पेमेंट के कारण रोक लगा दी है। लेकिन फिर अगले दिन चालू हो जाता है।
आज भी यही समस्या है। यदि कोई मित्र इस समस्या से निजात दिलाने का कोई उपाय बता देंगे तो उनकी बहुत कृपा होगी।

16 comments:

रविकर said...

फोन ही दिला सकता है निज़ात |
मान कर देखिये बात --
एक आवेदन डिस्कनेक्ट करने का ||

ईं.प्रदीप कुमार साहनी said...

सरकारी है न | हो जाता है कभी कभी |

मेरी रचना देखें-
मेरी कविता:सूखे नैन

anita agarwal said...

kai baar samsya aisae bhi sulajhti hai agar aap kisi bade adhikari se baat ker sakein. computer operator ke paas apne samne rectification karane se bhi samasya baar baar nahi ati. ye bhi try kerke dekh lijiye.
meri nayi post apke or blog manch ke intezar mei hai...

गगन शर्मा, कुछ अलग सा said...

मैं भी भुग्त-भोगी हूं। एक बार तो 23 दिनों तक बंद था और इनके निष्णात कर्मचारियों को 19 दिनों तक 'फाल्ट' ही ढूंढे नहीं मिल रहा था। इन्हीं के कंधों पर चढ 'प्रायवेट' कंपनियां कहां से कहां जा पहुंची और ये.....
जहां दूसरे सदा नौकरी छूटने के डर से रक्त-चाप बढवाए रखते हैं वहीं इधर माह के आखिर में किसी तरह की चिंता जो नहीं रहती।
दुखी हो कर इस पर एक पोस्ट काफी पहले डाली थी, "दीपिका को देख कर कोफ्त होती है"

manoj said...

सारी विपदा की जड़े हैं सरकारी तंत्र....
इनके सम्मुख विवश हैं, झाड़ फूंक के मंत्र.....
झाड़ फूंक के मंत्र, लगाएं सदा अडंगा.....
आम आदमी विवश है इनके सम्मुख नंगा....
मेरी मानो कस्ट को, फूंको जैसे फूस ....
कौन काम बनता नहीं, दे दो थोड़ी घूस.....

manoj said...

http://manojobc.blogspot.com/

Kunal Verma said...

कृपया हमारा ब्लॉग शामिल कर लेँ http://kunal-verma.blogspot.com

Dr. Ayaz Ahmad said...

एक आवेदन डिस्कनेक्ट करने का ||
Umda tareeqa ...
Dhamki hi kaam aayegi ...

Hamara blog bhi apne sankalak men shamil kar lijiyega.

http://drayazahmad.blogspot.com/2011/10/blog-post_10.html

sumeet "satya" said...

पहला तरीका -- इसके लिए आप अपने एक्सचेंज में लिखित शिकायत दर्ज करवाइए......अगर समस्या का निदान नहीं होता तो आप जनसूचना अधिकार के तहत बीएसएनएल से उस लिखित शिकायत की कॉपी लगाकर जवाब-तलब कर सकते हैं

दूसरा और आसान तरीका -- अपने इलाके के किसी दमदार परिचित समाजसेवी को अपनी समस्या बताएं .....हल जल्द निकलेगा

sumeet "satya" said...

pls see my blog www.aclickbysumeet.blogspot.com

SAJAN.AAWARA said...

nbsajan.blogspot.com

jai hind jai bharat

श्रीप्रकाश डिमरी /Sriprakash Dimri said...

शास्त्री जी ..ऐसा सुनने में आया है कि उत्तराँचल के बी एस एन एल सेवा विशेषकर ब्राडबैंड सेवा चंडीगढ़ से संचालित की जा रही है कुछ विकसित अंतरजाल सेवा बनाने के नाम पर इसलिए आजकल ये दिक्कत आम हो गयी है ..स्थानीय अधिकारियों से संपर्क करें तो कहते हैं की चंडीगढ़ से ऐसा हो रहा है.......

Madan Kumar Tiwari said...

टेलीफ़ोन या ब्राड बैंड काम नही करता या फ़िर पेमेंट नही करना चाहते हैं ? वैसे इनका यह स्टाईल है । आखिर अपना है न । आप एक काम करें आन लाईन पेमेंट की फ़ैसलिटी भी है , उसका उपयोग करें। मेरे विचार से यह ब्राड बैंड सेवा मुफ़्त में उपलब्ध कराई जानी चाहिये।

Rajput said...

BSNL Hatawo
Nizat Pawo !

Kisi bhi company ka Data card instemal karen ya fir 3G device le tata docomo.

अतुल प्रकाश त्रिवेदी said...

शास्त्री जी से पैसे ऐंठ लिए , धू , छि :
आप तो विक्रमादित्य हैं बेताल का शव ढो रहे हैं . इस प्रश्न का उत्तर कोई जानता तब न देता .
सर के टुकड़े -टुकड़े कब के हो गए . पर यह खुला पत्र ?? क्या दुस्साहस है . यह तो आमंत्रण है अन्य कंपनियों को आओ मैं खाली हूँ मुझे पटाओ. कोई मिला क्योँ नहीं अब तक. उन्हें कोई ब्लॉगर नौकरी पर रख लेना चाहिए . नहीं . इस पर तो एक ओसत लिखी जा सकती है इतनी देर रुकने का फायदा समझ रख लेता हूँ . इसके बाद आज की टिप्पण कला की महारत हासिल करने के लिए चली आ रही पंक्तियाँ हैं यहाँ भी चस्पा करूँगा ही . बुरा नहीं मानेंगे न . जब बी एस एं एल का कुछ नहीं उखाड़ पाए ... आज कुछ ज्यादा ही उद्दंड है मस्तिष्क पा लागी , क्षमा कीजियेगा . दुर्वाशा ऋषी .

अच्छा प्रयास

बहुत उम्दा . आपकी रचना पढ़वाने के लिए धन्यवाद शुभकामनायें

नापतोल.कॉम से कोई सामान न खरीदें।

मैंने Napptol.com को Order number- 5642977
order date- 23-12-1012 को xelectron resistive SIM calling tablet WS777 का आर्डर किया था। जिसकी डिलीवरी मुझे Delivery date- 11-01-2013 को प्राप्त हुई। इस टैब-पी.सी में मुझे निम्न कमियाँ मिली-
1- Camera is not working.
2- U-Tube is not working.
3- Skype is not working.
4- Google Map is not working.
5- Navigation is not working.
6- in this product found only one camera. Back side camera is not in this product. but product advertisement says this product has 2 cameras.
7- Wi-Fi singals quality is very poor.
8- The battery charger of this product (xelectron resistive SIM calling tablet WS777) has stopped work dated 12-01-2013 3p.m. 9- So this product is useless to me.
10- Napptol.com cheating me.
विनीत जी!!
आपने मेरी शिकायत पर करोई ध्यान नहीं दिया!
नापतोल के विश्वास पर मैंने यह टैबलेट पी.सी. आपके चैनल से खरीदा था!
मैंने इस पर एक आलेख अपने ब्लॉग "धरा के रंग" पर लगाया था!

"नापतोलडॉटकॉम से कोई सामान न खरीदें" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

जिस पर मुझे कई कमेंट मिले हैं, जिनमें से एक यह भी है-
Sriprakash Dimri – (January 22, 2013 at 5:39 PM)

शास्त्री जी हमने भी धर्मपत्नी जी के चेतावनी देने के बाद भी
नापतोल डाट काम से कार के लिए वैक्यूम क्लीनर ऑनलाइन शापिंग से खरीदा ...
जो की कभी भी नहीं चला ....ईमेल से इनके फोरम में शिकायत करना के बाद भी कोई परिणाम नहीं निकला ..
.हंसी का पात्र बना ..अर्थ हानि के बाद भी आधुनिक नहीं आलसी कहलाया .....

बच्चों के ब्लॉग
ब्लॉगों की चर्चा/एग्रीगेटर

My Blog List

तकनीकी ब्लॉग्स

My Blog List

हास्य-व्यंग्य

My Blog List