BLOGSMANCH. Powered by Blogger.

आवश्यक सूचना!

ब्लॉगमंच में अपने ब्लॉग शामिल करवाने के लिए निम्न ई-मेल पर अपने ब्लॉग का यू.आर.एल. भेज दीजिए। roopchandrashastri@gmail.com

"स्वास्थ्यवर्धक के नाम पर लूट!" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

Thursday, September 27, 2012

स्वास्थ्यवर्धक के नाम पर लूट!
आदरणीय स्वामी जी!
   आपकी बात मानकर मैं स्थानीय पतंजलि क्रयकेन्द्र पर गया तो वहाँ 5 अनाजों से निर्मित स्वास्थ्यवर्धक आटो का दाम पचास रुपये किलो था। इससे मेरा माथा ठनका कि चना के छोड़कर ज्वार, बाजरा. मक्की तो गेहूँ से कम दाम वाले अनाज हैं, फिर स्वास्थ्यवर्धक के नाम से बिकने वाला आटा इतना मँहगा कैसे हो गया?
    हम लोग चक्की का पिसा शुद्ध गेहूँ का आटा 17 रु. किलो लाते हैं और ब्राण्डेड पैक आटा 18 रुपये किलो के हिसाब से मिलता है।
     मैंने बाजार से 2 किलो बाजरा 24 रुपये में, 2 किलो मक्का 24 रुपये में, 2 किलो ज्वार 20 रुपये में और दो किलो चना 90 रुपये में खरी दा और इसमें 15 रुपये किलो के भाव से 10 किलो गेहूँ 150 रुपये में खरीद कर मिलया। पिसाई के 40 रुपये भी इसमें जोड़ दे तो 20 किलो आटे का दाम 348 रुपये ही हुआ। जिसकी शुध्दता की भी गारंटी है। अर्थात यह स्वास्थ्यवर्धक आटा मुझे 17 रुपये पचास पैसे किलो पड़ा। फिर आपका यही आटा पचास रुपये किलो कैसे हो गया? क्या आम आदमी के बजट का यह आटा है? स्वास्थ्यवर्धक नाम पर 50रुपये किलो आटा बेचना तो सरासर लूट है। क्या यही स्वदेशी आन्दोलन है। यह तो वही बात हुई कि स्वदेशी पहनो और गांधी जी के नाम से चल रहे श्री गान्धी आश्रम में अपनी जेब कटावा कर घर आ जाओ।
    आप राजनीतिक दलों को भ्रष्ट करार देते हैं लेकिन नैतिकता की आड़ में आप सन्यासी होकर अन्धाधुऩ्ध कमाई करने में लगे हो।
आप भी तो जनता की भावनाओं को भुनाकर अपने बन्धु-बान्धवों को सीधे रूप में धनवान बनाने में तुले हो! फिर क्या अन्तर रह जाता है आपमें और आपके द्वारा कथित भ्रष्ट राजनेताओं में।
स्वामी जी! 
    मैं आप अपने प्रवचन में अक्सर कहते हैं कि आपने घोर गीपबी का जीवन जिया है। लेकिन अब आपके पास परोक्षरूप में अकूत सम्पत्ति है। इसका राज़ मेरी तो समझ में अब खूब आ गया है। बहुत से उद्योगों का स्वामी आपका ट्रस्ट है। विशाल और भव्य पतंजलि योग संस्थान का भवन इसका गवाह है। जहाँ अपने इलाज के लिए जाने वाले रोगियों के लिए होटलों से भी मँहगे हैं। जिनमें ठहरना आप आदमी के बस की बात नहीं है। आपने गरीवी देखी है तो गरीबों के लिए इस चिकित्सापीठ में कौन सी सुविधा प्रदत्त है। मैंने आपके चिकित्सकों और कर्मचारियों का भी व्यवहार देखा है। जहाँ आम आदमी को दुत्कार धनवानों को प्यार के अलावा कुछ भी तो नहीं है।
    अब समय आ गया है कि जनता कथित भ्रष्ट नेताओं से तो सावधान हो ही और साथ में आपके जैसे गेरुए वस्त्रधारी बाबाओं से भी सावधान रहे!

12 comments:

वन्दना said...

ये तो लोगो को बेवकूफ़ बनाना हुआ।

HAKEEM YUNUS KHAN said...

बात सही है.
पोस्ट अच्छी है.
http://blogkikhabren.blogspot.com/2012/09/5-50-posted-by.html

boletobindas said...

महज आठ-दस साल पहले टीवी के माध्यम से इनके योग प्रचार का हमने भी समर्थन किया था। मगर कैसे एक योग साधक पैसे का साधक बना इसका अच्छा उदारहण हैं बाबा। अब वे राजनीती की दुनिया का चाणक्य या किंग मेकर बनना चाहते हैं.....इसमें कोई बुराई नहीं है..पर योग गुरु की जगह अपने को राजगुरु कहलाना भी तो पंसद करें। पर अबतक के कदमों से ये कहीं नहीं लगता कि राजकाज चलाने का क ख ग बाबा ने सीखा है। होगा वही कि बिना तैयारी आए बाबा सिर्फ असफलता को प्राप्त करेंगे। एक योग साधक का ये पराभव न देश के लिए अच्छा है न ही धर्म के लिए।

महेन्द्र श्रीवास्तव said...

बाबा रामदेव की असलियत भी सामने आने लगी है।
इस बाबा का चेहरा दागदार है..

Rajput said...

जिसको देखो जनता को लुटने में लगा है . इस साधू को भी पैसे की इतनी भूख क्यों है पता नहीं .

Anonymous said...

Keep working, nice post! This was the information I had to know.

Anonymous said...

Thank you for the sensible critique. Me & my cousin were just preparing to do some research on this. We got a book from our local library but I think I learned better from this post. I’m very glad to see such great info being shared freely out there…

आमिर दुबई 2692 said...

आपको ये जानकार ख़ुशी होगी की एक सामूहिक ब्लॉग ''इंडियन ब्लोगर्स वर्ल्ड ''शुरू हो चुका है.जिसमे भारतीय ब्लोगर्स का परिचय करवाया जायेगा.और भारतीय ब्लोग्स की साप्ताहिक चर्चा भी होगी.और साथ ही सभी ब्लॉग सदस्यों के ब्लोग्स का अपडेट्स भी होगा.ये सामूहिक ब्लॉग ज्यादा से ज्यादा हिंदी ब्लोग्स का प्रमोशन करेगा.आप भी इसका हिस्सा बने.और आज ही ज्वाइन करें.जल्द ही इसका काम शुरू हो जायेगा.
लिंक ये है
http://indians-bloggers.blogspot.com/

Anonymous said...

Aw, this was a very good post. Taking a few minutes and actual
effort to produce a really good article… but what can I
say… I procrastinate a whole lot and never seem to
get nearly anything done.
Also visit my web blog :: trustworthy website

Anonymous said...

Do you people have a facebook fan page? I searched for one on facebook or twitter but could not discover one, I'd really like to become a fan!

आमिर दुबई said...

माननीय शास्त्री जी , इंडियन ब्लोगर्स वर्ल्ड सामूहिक ब्लॉग को भी ब्लॉग मंच पर एड कर लीजिये.इसका लिंक निम्न हैं.

इंडियन ब्लोगर्स वर्ल्ड

नापतोल.कॉम से कोई सामान न खरीदें।

मैंने Napptol.com को Order number- 5642977
order date- 23-12-1012 को xelectron resistive SIM calling tablet WS777 का आर्डर किया था। जिसकी डिलीवरी मुझे Delivery date- 11-01-2013 को प्राप्त हुई। इस टैब-पी.सी में मुझे निम्न कमियाँ मिली-
1- Camera is not working.
2- U-Tube is not working.
3- Skype is not working.
4- Google Map is not working.
5- Navigation is not working.
6- in this product found only one camera. Back side camera is not in this product. but product advertisement says this product has 2 cameras.
7- Wi-Fi singals quality is very poor.
8- The battery charger of this product (xelectron resistive SIM calling tablet WS777) has stopped work dated 12-01-2013 3p.m. 9- So this product is useless to me.
10- Napptol.com cheating me.
विनीत जी!!
आपने मेरी शिकायत पर करोई ध्यान नहीं दिया!
नापतोल के विश्वास पर मैंने यह टैबलेट पी.सी. आपके चैनल से खरीदा था!
मैंने इस पर एक आलेख अपने ब्लॉग "धरा के रंग" पर लगाया था!

"नापतोलडॉटकॉम से कोई सामान न खरीदें" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

जिस पर मुझे कई कमेंट मिले हैं, जिनमें से एक यह भी है-
Sriprakash Dimri – (January 22, 2013 at 5:39 PM)

शास्त्री जी हमने भी धर्मपत्नी जी के चेतावनी देने के बाद भी
नापतोल डाट काम से कार के लिए वैक्यूम क्लीनर ऑनलाइन शापिंग से खरीदा ...
जो की कभी भी नहीं चला ....ईमेल से इनके फोरम में शिकायत करना के बाद भी कोई परिणाम नहीं निकला ..
.हंसी का पात्र बना ..अर्थ हानि के बाद भी आधुनिक नहीं आलसी कहलाया .....

बच्चों के ब्लॉग
ब्लॉगों की चर्चा/एग्रीगेटर

My Blog List

तकनीकी ब्लॉग्स

My Blog List

हास्य-व्यंग्य

My Blog List